रविवार, 25 अक्तूबर 2015

मेरी तलाश.....

मौत मेरी तलाश में दिन ,
रात यूँ ही भटकती रही.....
कभी उसे मेरा घर न मिला ,
तो कभी उसे मैं घर पर न मिला......

एक टिप्पणी भेजें

लोकप्रिय पोस्ट