शुक्रवार, 21 अक्तूबर 2011

अच्छी है बेटियाँ........


बोए जाते है बेटे, उग जाती हैं बेटियाँ |
खाद पानी बेटों में ,
पर लहर जाती हैं बेटियाँ |
एवरेस्ट तक ठेले जाते है बेटे,
पर चढ़ जाती हैं बेटियाँ |
रुलाते हैं बेटे, और रोटी है बेटियाँ |
कई तरह से गिराते है बेटे
पर संभाल लेती हैं बेटियाँ |
पढाई करते है बेटे,
पर सफलता पाती है बेटियाँ |
कुछ भी कहें पर अच्छी है बेटियाँ |
एक टिप्पणी भेजें

लोकप्रिय पोस्ट