गुरुवार, 28 जुलाई 2011

आँखों में भरकर प्यार अमर


आँखों में भरकर प्यार अमर
आशीष हथेली में भरकर
को‌ई मेरा सिर गोदी में रख
मेरे सर को सहलाता, मैं सो जाता
को‌ई गाता गाना मैं सो जाता......



एक टिप्पणी भेजें

लोकप्रिय पोस्ट