बुधवार, 20 सितंबर 2017

ना तुम मुझे याद रखो.....


ना तुम मुझे याद रखो
ना मैं तुम्हें याद रखूं

ना तुम मुझे याद रखो
ना मैं तुम्हें याद रखूं

आवो वहां मिल के
महफ़िल सजाते हैं

कल का किसे क्या पता
अरे कल का किसे क्या पता
आओ यही मिल के
खुशियां मानते हैं

एक टिप्पणी भेजें

लोकप्रिय पोस्ट